PRAYAGRAJ EXPRESS
News Portal

सांसद ने नहीं दिया राम-राम का जवाब… लोकसभा चुनाव में ताल ठोंक रहे कल्लन कुमार, जानें आगरा की ये कहानी

42

हरिकांत शर्मा / आगरा : ताज नगरी आगरा में 7 मई को तीसरे चरण में मतदान होना है. शुक्रवार से नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गई. शुक्रवार को फतेहपुर सीकरी लोकसभा के लिए 26 और आगरा लोकसभा के लिए 9 नामाकंन पत्र खरीदे गए. तीसरे चरण के लिए नामांकन प्रक्रिया 19 अप्रैल तक चलेगी. लेकिन इस बीच अजब-गजब प्रत्याशी इस 18वीं लोकसभा के लिए नामांकन पत्र खरीद रहे हैं.

आगरा में कोई प्रत्याशी 100वां चुनाव लड़ने जा रहा है तो कोई सांसद और पुलिस सिस्टम को ठीक करने के लिए चुनाव लड़ रहा है. इस खबर में हम बात करेंगे आगरा के एक ऐसे प्रत्याशी की जो पुलिस के सिस्टम और जनप्रतिनिधियों के व्यवहार से नाराज होकर उसे ठीक करने के लिए सांसद बनने की कठिन डगर पर निकल पड़े हैं.

नामांकन पत्र खरीदने के बाद किया डांस
इस खबर में हम बात करेंगे आगरा फतेहपुर सीकरी के छोटे से गांव उंदेहरा के रहने वाले 63 साल के कल्लन कुमार की. कल्लन कुमार जाति से कुम्हार हैं और मिट्टी के बर्तन बनाने का काम करते हैं. शुक्रवार को जिला मुख्यालय से उन्होंने लोकसभा चुनाव में नामांकन के लिए फॉर्म खरीदा. 63 साल के कल्लन का मिजाज बेहद चुलबुला है. नामांकन पत्र खरीदने के बाद मीडिया के सामने डांस करने लगे.

जब कल्लन कुमार की बाइक हुई चोरी
कल्लन कुमार ने चुलबुले अंदाज में अपने सांसद प्रत्याशी बनने का किस्सा सुनाया. कल्लन ने बताया कि 2023 में वे थाना जगदीशपुरा के एक हॉस्पिटल में अपने रिश्तेदार को देखने के लिए गया था. बाइक हॉस्पिटल के बाहर खड़ी कर दी. कुछ देर बाइक चोरी हो गई. थाने में रिपोर्ट लिखवाई. लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. सीएम पोर्टल पर भी शिकायत की. लेकिन बात नहीं बनी और इसी सिस्टम से तंग आकर वह इस बार चुनाव मैदान में हैं.

पुलिस, प्रशासन और नेताओं को सुधारने के लिए लड़ रहे चुनाव
जब न्यूज़ 18 लोकल की टीम ने कल्लन कुमार से पूछा की वे किस मुद्दे को लेकर चुनाव लड़ रहे हैं तो कल्लन ने बताया कि वे पुलिस, प्रशासन और नेताओं को सुधारने के लिए चुनाव लड़ रहे हैं. लोकसभा का चुनाव जीतने के बाद वे योगी और मोदी से मिलेंगे. उन्हें पुलिस और प्रशासन के बारे में जानकारी देंगे. कल्लन कहते हैं कि आगरा में हालत यह है कि थाने जाओ तो पैसा, नेताजी के पास जाओ तो पैसा. हर जगह पैसा देना पड़ता है.

इस राजनेता को देना चाहते हैं टक्कर
कल्लन कुमार सिर्फ भ्रष्टाचार और पुलिस के सिस्टम से ही नाराज नहीं हैं. कल्लन कुमार जनप्रतिनिधियों के व्यवहार से भी नाराज हैं . कल्लन ने बताया कि कुछ साल पहले वे मलपुरा गए थे. वहां एक शोक सभा थी. इस शोक सभा में फतेहपुर सीकरी के सांसद भी पहुंचे थे. उन्होंने सांसद को देखकर उनसे राम-राम की. लेकिन उन्होंने अनसुना कर दिया और यही बात उनको खटक गई अब इस चुनाव में सीधे तौर पर फतेहपुर सीकरी के सांसद को टक्कर देने के लिए भी मैदान में उतरे हैं.

Tags: Agra information, Local18, Uttar Pradesh News Hindi

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More