PRAYAGRAJ EXPRESS
News Portal

घटतौली पर लगाम लगाएगी ये मशीन, कोटेदार नहीं कर पाएंगे खेल; अब ऐसे मिलेगा राशन

49

सनन्दन उपाध्याय/बलिया:  बलिया जिला पूर्ति कार्यालय में एक ऐसी मशीन आई है, जो राशन उपभोक्ताओं की सभी समस्याओं का निदान बनेगी. जी हां! ई – पाश मशीन के साथ इलेक्ट्रॉनिक कांटा भी आया है. इस मशीन से अब राशन कार्ड धारकों को किसी भी तरह की समस्या नहीं होने वाली है. आवाज, पर्ची और खुद के मोबाइल पर मैसेज जैसी तमाम सुरक्षित निगरानी के बीच राशन कार्ड धारकों को राशन मिलेगा. आइए जानते हैं इस मशीन में क्या खास है.

जिला पूर्ति अधिकारी राम जतन यादव ने कहा कि अब राशन में आ रही तमाम समस्याओं का समाधान होगा. 1406 ई – पाश इलेक्ट्रॉनिक वजन मापने का पैमाना आ गया है. इसमें उपभोक्ताओं के हित में तमाम सुविधाएं उपलब्ध है. जिला पूर्ति अधिकारी बलिया राम जतन यादव ने आगे कहा कि खाद्य रसद विभाग ने यह मशीन उपलब्ध कराई है. अभी भी हमारे यहां ई – पाश मशीन के साथ इलेक्ट्रॉनिक कांटा के द्वारा कोटेदार राशन तौलकर उपभोक्ताओं को देते थे.

सभी समस्याओं का होगा समाधान
बीच-बीच में शिकायत आती रहती थी कि घटतौली की जा रही है. मेरे राशन में से काट दिया गया है. ऐसी सभी समस्याओं के निदान के लिए शासन ने लिंक कांटा भी अब उपलब्ध करा दिया है.  अब ई – पाश मशीन के साथ इलेक्ट्रॉनिक वजन मापने का पैमाना (Electronic Weighing Scale) भी आ चुका है. इस मशीन से अब सभी समस्याओं का समाधान हो जाएगा. कोटेदारों को मशीन देने के साथ उन्हें ट्रेनिंग भी दी जा रही है.

ये है मशीन की विशेषता
इस मशीन की विशेषता यह है कि अब कार्ड धारक कोटेदार के यहां जैसे ही अंगूठा लगाएगा, उसको मिलने वाले राशन का पूरा हिसाब आ जाएगा. जैसे मान लीजिए अरविंद (Duplicate Name) नाम है तो उसके नाम पर क्लिक किया जाएगा. इससे उसका पूरा खाद्यान्न का प्रकार खुलकर सामने आ जाएगा. मान लीजिए कि अगर 12 किलो उसको देना है तो इतने किलो पर मशीन आकर रुक जाएगी.  जब तक मशीन 12 किलो तौल नहीं देगी, तब तक अगला कम्युनिटी नहीं आएगा. ऐसे में हमारे कार्ड धारक का जो हक है उसको कोई काट नहीं पाएगा. ये मशीन तौल की पूरी जानकारी भी देगी कि कार्ड धारक को कितना राशन दिया जा रहा है. साथ ही में उनको एक पर्ची और मैसेज भी प्राप्त होगा, जिसमें राशन की जानकारी होगी.

Tags: Ballia information, Local18

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More