PRAYAGRAJ EXPRESS
News Portal

पीलीभीत के इस गांव में टाइगर का मौत से हुआ सामना, फिर जानें क्या हुआ ?

116

सय्यद कयम रजा/पीलीभीत : उत्तर प्रदेश में पीलीभीत टाइगर रिजर्व से लगे गांवों में बाघ का आतंक थमने का नाम नहीं ले रहा है. एक बार फिर बाघ जंगल से निकल कर गांव में पहुंच गया. ग्रामीणों ने इस घटना की सूचना वन विभाग को दी है. जब वन विभाग मौके पर ना पहुंचा तो टाइगर से निपटने के लिए गांव वालों ने ही मोर्चा संभाल लिया और टाइगर को भगाने के लिए बाकायदा फायरिंग का सहारा भी लिया.

दरअसल पीलीभीत जिला के पीलीभीत टाइगर रिजर्व के माला रेंज के जंगल से सटे रानीगंज गांव में आज सुबह धान के खेत में टाइगर बैठा था. शंकर नाम का व्यक्ति जब अपने धान में पानी लगाने जा रहा था तो उसकी नजर टाइगर पर पड़ी. वहीं बाघ को आबादी की तरफ बढ़ता देख गांव वालों में दहशत का माहौल बन गया. आनन-फानन में गांव वालों ने इसकी सूचना वन विभाग को दी, लेकिन काफी समय बीच जाने के बाद भी जब वन विभाग की टीम मौके पर नहीं पहुंची तो बाघ को लेकर गांव में दहशत और बढ़ गया.

फायरिंग का वीडियो वायरल
ऐसे में गांव वालों ने इकट्ठा होकर बाघ को गांव से जंगल की ओर भागने के लिए मोर्चा संभाला. लिहाजा दर्जनों की संख्या में गांव वाले लाठी-डंडा लेकर खेत में पहुंच गए. वहां पर कुछ लोगों ने बाघ को भगाने के लिए पटाखे छोड़े और हवाई फायरिंग भी की. इसके बाद बाघ भी दहशत में आ गया और खेत में इधर-उधर भागने लगा. वहीं किसी ने पूरे मामले का वीडियो बना लिया जिसमें साफ तौर पर दिख रहा है कि फायरिंग हो रही है और बाघ भी अपनी जान बचाने के लिए खेतों में दौड़ रहा है.

दो किसानों का बनाया था टाइगर ने शिकार
तकरीबन 1 माह पहले रानीगंज गांव जहां का यह आज का यह वीडियो है. इसी गांव में बाघ ने दो किसानों को अपना निवाला बना लिया था, जिसके बाद से ही यह गांव बाघ की दहशत में जीने को मजबूर है. मगर एक महीना बाद भी वन विभाग बाघ को जंगल में धकेलने या उसको पकड़ने की अपनी कोई भी रणनीति को अंजाम नहीं दे पाया है.

वन विभाग ने नहीं दिया कोई जवाब
वहीं इस पूरे मामले पर पीलीभीत टाइगर रिजर्व के डिप्टी डायरेक्टर नवीन खंडेलवाल को जब फोन किया गया तो उन्होनें फोन ही नहीं उठाया. वहीं स्थानीय मधोटांडा थाना इंचार्ज अचल कुमार का कहना है कि गांव में टाइगर या फायरिंग की उनको कोई जानकारी नहीं है. वह पूरे मामले की जानकारी इकट्ठा कर रहे हैं.

Tags: Local18, Pilibhit information, Uttar Pradesh News Hindi

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More