PRAYAGRAJ EXPRESS
News Portal

शबनम ने बरेली जेल में लिखा Essay, मिला फर्स्ट प्राइज, प्रेमी भी आया अव्वल

67

बरेली. उत्तर प्रदेश के अमरोहा गांव के बावनखेड़ी में 15 साल पहले प्रेमी की खातिर अपने परिवार के 7 लोगों की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या करने वाली शबनम ने बरेली जेल में हुई निबंध प्रतियोगिता में पहला स्थान प्राप्त किया है. खास बात यह है कि प्रेमी और प्रेमिका शबनम ने जेल में हुई निबंध प्रतियोगिता में पहला स्थान प्राप्त किया है. बता दें कि स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर यह निबंध ‘सारे जहां से अच्छा हिन्दुस्तां हमारा’ विषय पर लिखवाया गया था. अब बरेली जेल प्रशासन ने उसका नाम जेलों में हुई प्रदेश स्तरीय प्रतियोगिता के लिए भेजा है.

शबनम बरेली के केंद्रीय कारागार-2 में बंद है. बता दें कि स्वतंत्रता दिवस पर कैदियों और बंदियों के बीच कई तरह के कार्यक्रम कराए जाते हैं. शबनम ने भी एक निबंध प्रतियोगिता में भाग लिया था. इस प्रतियोगिता में ‘सारे जहां से अच्छा हिन्दुस्तां हमारा’ विषय पर 45 कैदियों और बंदियों ने निबंध लिखे थे. यह आयोजन प्रदेश की सभी जेलों में हुआ था. इनमें से हर जेल के टॉप 3 कैदियों के नाम जेल मुख्यालय को भेजने थे.इसमें केंद्रीय कारागार-2 से पहला नाम शबनम का भेजा गया है. अफसरों का कहना है कि उसने काफी अच्छा निबंध लिखा है.

2008 में आखिर हुआ क्या था

शबनम मूलरूप से अमरोहा के गांव बावनखेड़ी की रहने वाली है. अपने प्रेमी सलीम के साथ मिलकर उसने शादी के लिए परिवार के 7 लोगों की हत्या कर दी थी. यह घटना 5 अप्रैल 2008 को हुई. शबनम ने रात में पूरे परिवार को चाय में नींद की दवा दी और प्रेमी सलीम के साथ अपने पिता शौकत अली, मां हाशमी, बड़े भाई अनीस, अनीस की पत्नी अंजुम, छोटे भाई राशिद और चचेरी बहन राबिया को कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी. इस दौरान भाई का 10 महीने का बेटा बचा, तो शबनम ने उसे गला दबाकर मार दिया.

जेल में हुआ था कॉम्पिटिशन

बरेली जेल के अधीक्षक विपिन मिश्र ने जानकारी दी है कि स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर जेल में ‘सारे जहां से अच्छा हिन्दुस्तां हमारा’ विषय पर निबंध प्रतियोगिता हुई थी. इसमें 45 कैदियों और बंदियों ने भाग लिया था. शबनम को पहला स्थान मिला है. बता दें कि शबनम और सलीम दोनों को फांसी की सजा सुनाई जा चुकी है. दोनों की दया याचिका को राष्ट्रपति ने खारिज कर दिया था. सुप्रीम कोर्ट ने भी सजा को बरकरार रखा है.

ये भी पढ़ें: प्यार हो तो ऐसा: पत्नी के लिए चांद का टुकड़ा ले आया NRI पति, दिया सरप्राइज गिफ्ट, खरीदी इतनी एकड़ जमीन

शबनम जेल में बच्चों और महिला बंदियों को पढ़ा भी रही है. उसने अंग्रेजी और भूगोल, दो विषयों से एमए किया है. घटना के समय वह शिक्षामित्र थी. उसका प्रेमी सलीम पांचवीं के बाद पढ़ाई छोड़ चुका था.

Tags: Bareilly information, UP information

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More