PRAYAGRAJ EXPRESS
News Portal

Panchhi Petha: आगरा में इन 8 जगह मिलता है असली ‘पंछी पेठा’, जानें कैसे ले सकते हैं फ्रैंचाइजी

48

रिपोर्ट-हरीकांत शर्मा

आगरा. ताज नगरी आगरा को ‘पेठा की नगरी’ के नाम से भी जाना जाता है. यही नहीं, यहां के पेठे की देश के साथ विदेश में अच्‍छी खासी धमक है. वहीं, शायद ही ऐसा कोई टूरिस्ट होगा जो आगरा घूमने आए और अपने साथ लजीज पेठा न लेकर जाए. हालांकि आपको आगरा में मशहूर पंछी पेठा के नाम से मिलते जुलते बहुत से प्रतिष्ठान देखने को मिल जाएंगे. इसके बाद लोगों के जेहन में यही सवाल उठता है कि इतनी दुकानों की भीड़ में आखिर कैसे असली पंछी पेठा तक पहुंचें, तो आज आपको लोकल-18 बताएगा कि आखिर कैसे तैयार किया जाता है पेठा और आप ओरिजिनल पंछी पेठा कहां से खरीद सकते हैं? इतना ही नहीं, अगर कोई पंछी पेठा की फ्रैंचाइजी लेना चाहता तो इस रिपोर्ट में उसकी भी जानकारी मिलेगी.

पंछी पेठा (Panchhi Petha) को आगरा का सबसे पुराना पेठा माना जाता है. इसकी शुरुआत 1926 में आगरा के नूरी दरवाजे के रहने वाले पंछी लाल गोयल ने की थी. उनकी सबसे पुरानी दुकान यहीं नूरी दरवाजे के पास की मार्केट में मौजूद है. हालांकि आगरा में आपको जगह-जगह पंछी पेठे के नाम से कई नकली दुकानें मिल जाएंगी. लोग पंछी पेठे के नाम पर आपको दूसरी कंपनी का पेठा बेच देते हैं.

आगरा में पंछी पेठा के हैं आठ आउटलेट्स
हालांकि आगरा में पंछी पेठा के 8 आउटलेट्स हैं. दो आउटलेट्स ताजमहल के पूर्वी और पश्चिमी गेट पर हैं. इसके अलावा सदर बाजार, एमजी रोड ,नौलक्खा फतेपुर सीकरी, दयालबाग, रामबाग और सिकंदरा में आउटलेट्स हैं. यही नहीं, पंछी पेठा की 2 ब्रांच दिल्ली में भी हैं.

पेठे की हैं 56 वैरायटी
सुभाष चंद्र गोयल के पिता स्वर्गीय पंछी लाल गोयल ने अपनी पहली दुकान आगरा के नूरी दरवाजे में खोली थी. इस वक्‍त सुभाष चंद्र गोयल की तीसरी पीढ़ी इस व्यापार को संभाल रही है. सुभाष गोयल बताते हैं कि पहले पेठा की रेसिपी बेहद गुप्त रखी जाती थी. उस वक्त पेठे की रेसिपी को गुप्त रखने के लिए कस्टमर को पहली मंजिल से पेठा नीचे रस्सी के माध्यम से भेजा जाता था. दूसरी ओर से ग्राहक उसी पात्र में पैसे रखकर ऊपर भेज दिया करते थे. फिलहाल 20 से ज्यादा पेठे की वैरायटी उपलब्ध हैं, लेकिन अलग-अलग तरीके से बाजार में 50 से ज्यादा किस्म का पेठा मिल रहा है.

ऐसे बनता है आगरा का मशहूर पेठा
कच्चे पेठे के फल से खाने वाली मिठाई बनाने तक लगभग 10 से 12 स्टेप हैं. इसमें सबसे पहले कच्चे पेठे को काटा जाता है. उसके अंदर से गूदा निकाला जाता है. गूदे को पेठे के आकार में पीस कटे जाते हैं. कटे हुए पेठे के पीस को एक नुकीली कीलों वाली मशीन से गोदा जाता है.गोदा इसलिए जाता है ताकि उसके अंदर तक मिठास घुल सके.इसके बाद उस पेठे को चूने के पानी में अच्छी तरह से दो से तीन बार धोया जाता है. धोने के बाद उसे उबाला जाता है. उबले हुए पेठे को एक बार फिर से चासनी में पकाया जाता है और उसके बाद उस पेठे में फ्लेवर मिलाकर ड्राई किया जाता है. पेठा सुखाने के बाद खाने के लिए बिल्कुल तैयार हो जाता है. सबसे ज्यादा सादा पेठा ,पान और सैंडविच पेठे की डिमांड रहती है.

घर बैठे भी खरीद सकते हैं ऑनलाइन पंछी पेठा
आप आगरा शहर के किसी भी कोने में रहते हैं और अपने घर पर मशहूर पंछी पेठा मंगवाना चाहते हैं, तो www.panchhipetha.in पर जाकर ऑनलाइन पेठा ऑर्डर कर सकते हैं. जबकि वेबसाइट पर बाकायदा पेठे की पूरी रेट लिस्ट मौजूद है. इसके अलावा आप सीधे दुकान पर फोन करके भी पेठा मंगवा सकते हैं. इसके लिए मोबाइल नंबर 076683 23321, 09997644141 पर फोन करना होगा.

ऐसे ले सकते हैं पंछी पेठे की फ्रैंचाइजी
पंछी पेठा के मालिक सुभाष गोयल ने बताया कि हम आगरा में अपनी दुकान की फ्रैंचाइजी नहीं देते, क्योंकि आगरा में पहले से ही पंछी पेठा के 8 आउटलेट्स हैं. अगर आप भी किसी दूसरे शहर में पंछी पेठे की फ्रैंचाइजी खोलना चाहते हैं तो आप इस मोबाइल नंबर 09997644141 पर संपर्क कर सकते हैं. फ्रैंचाइजी लेने के कुछ नियम है जैसे दुकान बड़ी होनी चाहिए और कुछ शुल्क भी जमा करना होगा.

Tags: Agra information, Petha Industries

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More