PRAYAGRAJ EXPRESS
News Portal

भक्तों को ही नहीं, भगवान को भी लगती है गर्मी! काशी के मंदिर में विशेष पूजा कर बारिश की प्रार्थना

38

रिपोर्ट – अभिषेक जायसवाल

वाराणसी. मानसून की बारिश शुरू होने के बाद भी गर्मी का कहर जारी है. प्रचंड गर्मी से राहत के लिए अब लोग भगवान की शरण में हैं. गर्मी से निजात मिले और बारिश हो, इसके लिए वाराणसी के दुर्गा मंदिर के दक्षिणी कोने में स्थित दुर्ग विनायक मन्दिर में विशेष पूजा और शृंगार किया गया. जल विहार शृंगार में बाबा के गर्भगृह में अस्थायी कुंड का निर्माण कर शीतल जल के फव्वारे लगाए गए. इसके साथ ही विशेष फूलों से उनका शृंगार किया गया.

गर्मी से राहत के लिए की जा रही इस विशेष पूजा-अर्चना के लिए पूरे मंदिर को आकर्षण ढंग से फल और फूलों से सजाया गया. फिर चार पहर की आरती और भोग के बाद भगवान से प्रार्थना की गई कि जल्द से जल्द इस भीषण गर्मी से लोगों को राहत मिले और बारिश हो. मंदिर के पुजारी ओम प्रकाश दुबे ने बताया कि इस भीषण गर्मी में भगवान भी भक्त की तरह ही परेशान होते हैं. उन्हें गर्मी से बचाया जा सके, इसके लिए ये विशेष शृंगार और पूजा की जाती है.

बारिश के लिए पूजा

इस विशेष शृंगार के पीछे एक मान्यता ये भी है कि ऐसा करने से भगवान दुर्ग विनायक प्रसन्न होते हैं. अपने भक्तों को भीषण गर्मी से राहत दिलाते हैं. अंकित उपाध्याय ने बताया कि हर एक वर्ष मंदिर में खास तिथि पर ये शृंगार होता है. इसको देखकर भक्त भी प्रसन्न होते हैं.

56 विनायकों में से है एक

बाबा विश्वनाथ के शहर बनारस में उनके पुत्र गजानंद के 67 पीठ हैं. इसमें 56 विनायक और 11 गणेश पीठ हैं. दुर्ग विनायक का मंदिर भी इन्हीं 56 विनायकों में से एक है. मान्यता है कि दुर्ग विनायक के दर्शन मात्र से ही सभी कष्टों से मुक्ति मिल जाती है. इसके साथ ही गणेश चतुर्थी के अलावा बुधवार के दिन भी यहां दर्शन के लिए भक्तों की भीड़ लगी रहती है.

Tags: Heatwave, Kashi City, Monsoon

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More