PRAYAGRAJ EXPRESS
News Portal

पति ने छोड़ा साथ, फिर सब इंस्पेक्टर ने खून देकर बचाई गर्भवती महिला की जिंदगी, अफसरों ने की तारीफ

36

हरदोई. पुलिस का नाम सुनते ही लोगों के जेहन में रौबदार छवि उभरकर सामने आ जाती है, लेकिन हरदोई में पुलिस की रहम दिली की तस्वीरें सामने आई हैं. पति से अनबन के बाद शिकायत करने थाने पहुंची गर्भवती महिला की हालत बिगड़ने पर पुलिसकर्मियों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया. चिकित्सकों ने ब्लड का इंतजाम करने की बात कही तो परिवार के लोग ब्लड की व्यवस्था नहीं कर सके. ऐसे में फरिश्ता बनकर सामने आये एक सब इंस्पेक्टर ने अस्पताल जाकर रक्तदान कर गर्भवती महिला की जान बचाई और मानवता की मिसाल पेश की. सब इंस्पेक्टर की इस दरियादिली की खूब तारीफ हो रही है तो वहीं महिला के परिजन उन्हें जी भर कर दुआएं दे रहे हैं.

दरअसल, कोतवाली देहात थाना क्षेत्र के बलदेव पुरवा गांव के रहने वाले पिंटू की पत्नी कोमल 8 माह की गर्भवती हैं. कोमल के पति ने उसकी देखभाल नहीं की लिहाजा पति से अनबन के बाद कोमल शिकायत करने महिला थाना पहुंची थी. जहां महिला थाना एसएचओ रामसुखारी ने महिला की तबीयत खराब देखी तो उसे उपचार के लिए मेडिकल कॉलेज में भर्ती करा दिया. मेडिकल कॉलेज में परिवार के लोगों को चिकित्सकों ने महिला के लिए ब्लड का इंतजाम करने की सलाह दी, लेकिन परिवार के लोग महिला के लिए ब्लड का इंतजाम नहीं कर सके.

महिला के परिजनों ने महिला थाना एसएचओ रामसुखारी से मिलकर उन्हें अपनी पीड़ा बताई. महिला थाना एसएचओ ने अपने ग्रुप पर एक मैसेज डाल कर लोगों से रक्तदान की अपील की. मैसेज पढ़ने के बाद पुलिस लाइन कंट्रोल रूम में तैनात सब इंस्पेक्टर अनुज बालियान सामने आये और महिला के लिए रक्तदान करने का फैसला किया.सब इंस्पेक्टर अनुज बालियान मेडिकल कॉलेज पहुंचे और रक्तदान किया. जिसके बाद गर्भवती महिला कोमल के लिए ब्लड का इंतजाम हो सका.

सब इंस्पेक्टर की इंसानियत से महिला की जान बच गई. अब उम्मीद की जा रही है कि जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ होंगे. रक्तदान कर महिला की जान बचाने वाले सब इंस्पेक्टर की दरियादिली से महिला का परिवार बेहद खुश है और उन्हें जी भर कर दुआएं दे रहा है. वहीं सब इंस्पेक्टर के इस कदम से विभागीय अफसर भी उनकी प्रशंसा कर रहे हैं.

Tags: Blood Donation, Hardoi News, UP information

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More