PRAYAGRAJ EXPRESS
News Portal

UP: सीएम योगी आदित्यनाथ के कार्यक्रम में अचानक बदलाव, कुछ देर में गोरखपुर के लिए होंगे रवाना

39

लखनऊ. गोरखपुर में स्थित गोरखनाथ मंदिर (Gorakhnath Temple) गेट पर तैनात पीएसी जवानों पर हमले के बाद सोमवार शाम तक मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ गोरखपुर पहुंच रहे हैं. हालांकि अभी तक मुख्‍यमंत्री के कार्यक्रम का प्रोटोकॉल नहीं आया है लेकिन बताया जा रहा है कि सीएम योगी शाम 6 बजे तक गोरखपुर पहंच सकते हैं. इस बीच एटीएस ने घटना की जांच शुरू कर दी है. सरकार ने इस मामले की जांच एटीएस और एसटीएस को सयुक्त रूप से सौंप दी है. जानकारी के मुताबिक, सीएम योगी अखिल भारतीय केडी सिंह बाबू जूनियर हॉकी प्रतियोगिता के फाइनल में पुरस्कार वितरण के बाद 4.30 बजे गोरखपुर के लिए रवाना होंगे. बताया जा रहा है कि रविवार रात गोरखनाथ मंदिर में हुए हमले के संदर्भ में सीएम योगी का दौरा महत्वपूर्ण माना जा रहा है.

घटना सामने आने के बाद अपर मुख्य सचिव गृह सचिव अवनीश अवस्थी ने कहा कि इसे आतंकी घटना कहा जा सकता है. एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने कहा कि शाम लगभग सात बजे एक व्यक्ति मंदिर के गेट नंबर एक पर धारदार हथियार से हमला किया और धार्मिक नारे लगाए. प्रशांत कुमार ने कहा कि धार्मिक स्थलों पर पहले से हमले का अलर्ट था. पुलिस की सतर्कता से हादसा टला दो जवानों को गंभीर चोटें आईं.

गोरखनाथ मंदिर अटैक: ATS के साथ ही IB और NIA भी कर रही जांच, हमलावर के पिता बोले- होनहार बच्चा, लेकिन…

अवनीश अवस्थी ने बताया कि इस घटना का भंडाफोड़ करने वाले 3 पीएसी कांस्टेबल को सीएम द्वारा घोषित 5 लाख रुपये दिए जाएंगे. यह एक बड़ी साजिश लग रही थी, लेकिन जांच प्रारंभिक चरण में है. उधर, प्रदेश के उपमुख्‍यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने एक ट्वीट के जरिए इस घटना पर रोष जताया है. उन्‍होंने लिखा-‘गोरखनाथ मंदिर में अवैध रूप से घुसने एवं सुरक्षाकर्मियों पर हमले का प्रयास अत्यंत दु:खद एवं निंदनीय है. प्रदेश सरकार ने इस घटना की जांच करने के निर्देश दिए हैं.’

आपके शहर से (लखनऊ)

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश

Tags: CM Yogi, CM Yogi Aditya Nath, Gorakhnath Temple, Gorakhpur information, Lucknow information, Up crime information, UP information, UP Police उत्तर प्रदेश

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More