PRAYAGRAJ EXPRESS
News Portal

यूपी पुलिस के शिकंजे में आए अंतरराष्ट्रीय स्मैक तस्कर, चार गिरफ्तार, विदेशी मुद्रा के साथ 8 लाख की स्मैक बरामद

45

बाराबंकी. उत्तर प्रदेश के बाराबंकी (Barabanki) जिले में रामनगर थाने की पुलिस और स्वाट टीम ने मिलकर अंतरराष्ट्रीय मादक पदार्थों की तस्करी (International Smack Smuggler) करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है. पुलिस ने गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है. इनके कब्जे से करीब आठ लाख की स्मैक, दूसरे देशों की मुद्राएं व चेकबुक, नगद रुपए सहित इसे तोलने के लिए इलेक्ट्रॉनिक कांटा और तस्करी करने में प्रयोग की जा रही गाड़ी बरामद हुई हैं. गिरफ्तार अभियुक्त बाराबंकी जिले से स्मैक खरीद कर नेपाल ले जाकर बेचते थे. रामनगर पुलिस की कार्रवाई से तस्करों में हड़कंप है.

दरअसल, बाराबंकी जिला काले सोना यानी मार्फीन की तस्करी करने के मामले में पूरे देश में मशहूर है. यहां बड़े पैमाने पर दूसरे राज्यों से क्रूड लाकर मार्फीन तैयार की जाती रही है. कई राज्यों तक इस तस्करी के तार जुड़े हैं जहां इसकी तस्करी की जाती है. पुलिस समय-समय पर इन तस्करों पर बड़ी कार्रवाई करती रहती है, लेकिन एक तस्कर जेल जाता है तो दूसरा फिर से धंधे में आ जाता है. शायद इसी के चलते लगातार तस्करों पर कार्यवाई की खबरें आती रहती हैं.

आज बाराबंकी जिले के रामनगर थाने की पुलिस व स्वाट सर्विलांस की संयुक्त टीम ने अन्तर्राष्ट्रीय मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है. मामले का खुलासा करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक पूर्णेन्दु सिंह ने बताया है कि अभियुक्त विजय विक्रम शाह व उसकी पत्नी जगत कुमारी शाह पूर्व में बाराबंकी के निवासी अभियुक्त अरमान, तुफैल व सद्दाम से मादक पदार्थ खरीदकर नेपाल ले जाकर सप्लाई करते थे.

योगी मंत्रिमंडल में सिद्धार्थनाथ सिंह को नहीं मिली जगह, समर्थकों की आने लगी सरकार विरोधी प्रतिक्रिया

नेपाल बागमती जेल में बन्द बाराबंकी निवासी तस्कर शब्बीर व कमल शाही नेपाल द्वारा जेल से ही गिरफ्तार अभियुक्तगण की आपस में मेल-मिलाप कराकर अवैध मादक पदार्थों की तस्करी कराने का कार्य कराया जा रहा था. जिनको गिरफ्तार किया गया है और अब जेल भेजने की कार्रवाई की जा रही है.

आपके शहर से (बाराबंकी)

उत्तर प्रदेश


  • Yogi Cabinet 2.0: योगी कैबिनेट हुई यंग, जानें युवा जोश और अनुभव के समीकरण के मायने

  • गोपालगंज: 3 हफ्ते के अंदर कार से 5 करोड़ कैश मिलने के बाद चौकन्नी हुई जांच एजेंसियां

    गोपालगंज: 3 हफ्ते के अंदर कार से 5 करोड़ कैश मिलने के बाद चौकन्नी हुई जांच एजेंसियां

  • योगी मंत्रिमंडल में सिद्धार्थनाथ सिंह को नहीं मिली जगह, समर्थकों की आने लगी सरकार विरोधी प्रतिक्रिया

    योगी मंत्रिमंडल में सिद्धार्थनाथ सिंह को नहीं मिली जगह, समर्थकों की आने लगी सरकार विरोधी प्रतिक्रिया

  • उत्तर प्रदेश निर्यात के मामले में देश के 5 शीर्ष राज्यों में शामिल, जानिए कैसे हो सका ये मुमकिन

    उत्तर प्रदेश निर्यात के मामले में देश के 5 शीर्ष राज्यों में शामिल, जानिए कैसे हो सका ये मुमकिन

  • BJP MLA सतीश महाना ने विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए दाखिल किया नामांकन, जानें क्यों तय मानी जा रही जीत

    BJP MLA सतीश महाना ने विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए दाखिल किया नामांकन, जानें क्यों तय मानी जा रही जीत

  • पहली बार UP विधानसभा में ली गई बुंदेली भाषा में शपथ, MLA जवाहर राजपूत बोले- ये माटी की भाषा का सम्मान

    पहली बार UP विधानसभा में ली गई बुंदेली भाषा में शपथ, MLA जवाहर राजपूत बोले- ये माटी की भाषा का सम्मान

  • Farrukhabad: धूमधाम से चढ़ी थी बारात, दुल्‍हन ने इस वजह से नहीं की शादी, फिर दूल्‍हे ने उठाया खौफनाक कदम

    Farrukhabad: धूमधाम से चढ़ी थी बारात, दुल्‍हन ने इस वजह से नहीं की शादी, फिर दूल्‍हे ने उठाया खौफनाक कदम

  • UP : अखिलेश यादव बोले- मैं अब विपक्ष में बैठूंगा, सरकार की जवाबदेही के लिए करेंगे काम

    UP : अखिलेश यादव बोले- मैं अब विपक्ष में बैठूंगा, सरकार की जवाबदेही के लिए करेंगे काम

  • UP Live News Update: मुख्तार अंसारी को लखनऊ कोर्ट ने सौंपी चार्जशीट की कॉपी

    UP Live News Update: मुख्तार अंसारी को लखनऊ कोर्ट ने सौंपी चार्जशीट की कॉपी

  • दिल्ली-हरियाणा वालों को जेवर एयरपोर्ट तक के लिए मिला एक और मेट्रो रूट, जानें प्लान

    दिल्ली-हरियाणा वालों को जेवर एयरपोर्ट तक के लिए मिला एक और मेट्रो रूट, जानें प्लान

  • सहारनपुर: रेलवे ट्रैक पर वीडियो बना रहा था लड़का, ट्रेन की चपेट में आकर मौत

    सहारनपुर: रेलवे ट्रैक पर वीडियो बना रहा था लड़का, ट्रेन की चपेट में आकर मौत

उत्तर प्रदेश

Tags: Barabanki News, Drug Smuggling, Up crime information, UP police

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More