PRAYAGRAJ EXPRESS
News Portal

तस्लीमा नसरीन ने क्रिकेटर मोईन अली पर दिया विवादिन बयान, ट्रोल हुईं तो कहा व्यंग्य था

56,826

 

 PRAYAGRAJ EXPRESS- बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन (Taslima Nasreen) ने इंग्लैंड के क्रिकेटर मोईन अली (Moeen Ali) को लेकर एक विवादित ट्वीट किया है. ट्वीट के बाद ट्रोलिंग होने पर तस्लीमा ने  सफाई में यह भी कहा है कि यह व्यंग्य के रूप में किया गया था. दरअसल सोमवार को तस्लीमा नसरीन ने ट्वीट किया था-अगर मोईन अली क्रिकेट नहीं खेल रहे होते तो वो शायद आईएसआईएस ज्वाइन करने सीरिया जा चुके होते. इस ट्वीट के तुरंत बाद तस्लीमा को तीखी प्रतिक्रियाएं मिलने लगीं.

Anuradha Exwaized नाम की एक ट्विटर यूजर ने तस्लीम नसरीन से पूछा कि ‘क्या एक धर्मपालन करने वाले वाला मुस्लिम आतंकी है? किसी को अपने धर्म की अभिव्यक्ति के लिए आतंकी नहीं कहा जा सकता.’ पुलकित सिंह ने नाम के एक यूजर ने तस्लीमा के ट्वीट पर जवाब देते हुए पूछा-‘क्या वो दाढ़ी रखते हैं और पाकिस्तानी हैं इसलिए आप ऐसे सवाल खड़े कर रही हैं?’

गुस्से में दी सफाई
ऐसे सैंकड़ों ट्वीट्स के बाद अब तस्लीमा नसरीन ने सफाई देते हुए कहा- नफरत फैलाने वाले जानते हैं कि मोईन पर किया गया ट्वीट एक व्यंग्य था. लेकिन इसे मुद्दा इसलिए बनाया गया क्योंकि मैं मुस्लिम समाज में धर्मनिरपेक्षता फैलाना चाहती हूं. मैं इस्लामिक कट्टरवाद का विरोध करती हूं. मानवता की सबसे बड़ी समस्या है कि महिलाओं के पक्षधर लेफ्टिस्ट महिलाविरोधी इस्लामिक कट्टरपंथियों का समर्थन करते हैं.

गुस्से में तस्लीमा ने लिखा है-अगर आप इस्लाम के अलावा किसी अन्य धर्म की समीक्षा करते हैं तो आपको प्रोग्रेसिव, फ्री थिंकर, लिबरल, सेकुलर, इंटेलेक्चुअल, रिवोल्यूशनरी माना जाता है. लेकिन अगर आप इस्लाम की समीक्षा करें तो आपको घृणा करने वाला और पेड एजेंट बताया जाता है.

कविता कृष्णन ने खड़े किए थे सवाल
दरअसल तस्लीमा के ट्वीट पर सीपीआईएमएल की नेता कविता कृष्णन ने तीखी प्रतिक्रिया दी थी. उन्होंने कहा था कि तस्लीमा को लेखक के तौर पर नहीं बल्कि कट्टर व्यक्ति के तौर पर याद रखा जाएगा.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More