PRAYAGRAJ EXPRESS
News Portal

मण्डलीय समीक्षा बैठक में अभियान चलाकर राजस्व वसूली के शत-प्रतिशत लक्ष्य को पूर्ण करने का आदेश, आरसी जारी हुए वाहनों के संचालन के विरूद्ध करेंगे कड़ी कार्रवाई

4,305

प्रयागराज एक्सप्रेस 18.02.20 योजनाओं के क्रियान्वयन एवं निर्माण कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही या उदासीनता क्षम्य नहीं-मण्डलायुक्त मण्डल स्तरीय अधिकारियों को सप्ताह में एक बार विभागीय बैठक कर कार्यों की नियमित रूप से समीक्षा करते रहने के दिये निर्देश 17 फरवरी, 2021 प्रयागराज। मण्डलायुक्त आर0 रमेश कुमार की अध्यक्षता में बुधवार को आयुक्त कार्यालय के गांधी सभागार में राजस्व वसूली एवं विकास कार्यों तथा निर्माण कार्यों की प्रगति के सम्बंध में मण्डलीय समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। बैठक में मण्डलायुक्त ने सभी मण्डल स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा है कि उपलब्ध धन के सापेक्ष कार्य को शत-प्रतिशत रूप से पूर्ण कराना सुनिश्चित करें साथ ही साथ उन्होंने यह भी हिदायत दी है कि कार्यों की गुणवत्ता और समयबद्धता पर विशेष ध्यान दिया जाये। मण्डलायुक्त ने सख्त सचेत करते हुए कहा है कि कार्यों में लापरवाही या उदासीनता किसी भी स्थिति में क्षम्य नहीं है। लापरवाही या उदासीनता बरतने वालें अधिकारियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी। मण्डलायुक्त ने वाणिज्य कर, आबकारी, स्टाम्प, परिवहन, विद्युत, खनन, पीडब्लूडी सहित अन्य विभागों के राजस्व वसूली के प्रगति की समीक्षा करते हुए सम्बंधित अधिकारियों को अभियान चलाकर वसूली में तेजी लाये जाने एवं शत-प्रतिशत लक्ष्य को पूर्ण किये जाने का निर्देश दिया है। उन्होंने सम्भागीय परिवहन अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि आरसी जारी हुए वाहनों के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही करते हुए अभियान चलाकर ऐसी गाड़ियों के संचालन को रोकना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि इस सम्बंध प्रशासनिक अधिकारियों से भी समन्वय स्थापित कर आवश्यक कार्यवाही करें। उन्होंने राजस्व वसूली से सम्बंधित सभी सम्बंधित अधिकारियों को आरसी की वसूली में प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित करते हुए डिफाल्टरों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करने का निर्देश दिया है।
सिंचाई विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए मण्डलायुक्त ने बोरिंग के कार्य को लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत पूर्ण किये जाने का निर्देश दिया है। उन्होंने रोस्टर के अनुसार नहरों में टेल तक पानी की उपलब्धता सुनिश्चित कराये जाने का निर्देश दिया है। पीडब्लूडी के कार्यों की समीक्षा करते हुए मण्डलायुक्त ने नई सड़कों के निर्माण कार्य, चैड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण तथा राजमार्गों के अनुरक्षण के कार्यों की समीक्षा में प्रतापगढ़ की प्रगति संतोषजनक न पाये जाने पर पीडब्लूडी के सम्बंधित अधिकारी को कार्यों में तेजी लाते हुए लक्ष्य के सापेक्ष कार्य को पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया है। कृषि विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए मण्डलायुक्त ने सोलर फोटोवोल्टैइक सिंचाई पम्प योजना के लक्ष्य को पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया है। प्रधानमंत्री सम्मान निधि योजना के अन्तर्गत ऐसे किसान जो कतिपय त्रुटियों के कारण योजना का लाभ नहीं पा रहे है, ऐसे किसानों के प्रपत्रों के संशोधन का कार्य शीघ्रता से पूर्ण कराये जाने का निर्देश सभी मुख्य विकास अधिकारियों को दिया है। पषुपालन विभाग के अन्तर्गत निराश्रित गोवंश को संरक्षित किये जाने के कार्यों की समीक्षा करते हुए उन्होंने खुला घूमने वाले निराश्रित गोवंशों को संरक्षित किये जाने एवं सहभागिता योजना के अन्तर्गत लाभार्थिंयों को आच्छादित कराये जाने का निर्देश दिया है। उन्होंने टीकाकरण के कार्यों को लक्ष्य के सापेक्ष पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया है। स्वास्थ्य विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए मण्डलायुक्त ने मण्डल में अनुपस्थित चल रहे चिकित्सकों के विरूद्ध कार्यवाही हेतु शासन स्तर पर पत्राचार किये जाने का निर्देश एडी हेल्थ को दिया है। उन्होंने अभियान चलाकर पात्र लाभार्थिंयों का आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत गोल्डेन कार्ड बनाये जाने का निर्देश दिया है। कैम्प लगाकर परिवार नियोजन के तहत नसबंदी कार्यक्रम को कराये जाने एवं कार्यशाला आयोजित कर लोगो को नसबंदी कराये जाने हेतु प्रेरित किये जाने के लिए कहा है। जननी सुरक्षा योजना के अन्तर्गत संस्थागत प्रसव के प्रगति की समीक्षा करते हुए मण्डलायुक्त ने शत-प्रतिशत संस्थागत प्रसव सुनिश्चित कराये जाने एवं लाभार्थिंयों का शत-प्रतिशत इंसेंटिव का भुगतान किये जाने का निर्देश दिया है। पंचायतीराज विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए उन्होंने सामुदायिक शौचालयों एवं पंचायतभवनों के निर्माण कार्यों को शीघ्रता से पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया है। आपरेशन कायाकल्प योजना के तहत स्कूलों, आंगनबाड़ी केन्द्रों में कराये जाने वाले कार्यों को तेजी से पूर्ण किये जाने का निर्देश दिया है। अमृत योजना की समीक्षा करते हुए मण्डलायुक्त ने उपलब्ध धन के सापेक्ष कार्यों को गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया है। साथ ही साथ उन्होंने अमृत योजना के अन्तर्गत सीवर के कार्य को भी शीघ्रता से पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही साथ उन्होंने स्मार्ट सिटी योजना, अपशिष्ट प्रबंधन एवं पार्कों के निर्माण कार्य को भी शीघ्रता से पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया है। राष्ट्रीय खाद्यय सुरक्षा योजना के तहत आधार सीडिंग के कार्यों में तेजी लाये जाने एवं सरकारी दुकानों का शत-प्रतिशत आवंटन सुनिश्चित किये जाने का निर्देश दिया है। समाज कल्याण विभाग की योजनाओं की समीक्षा करते हुए वृद्धा/विधवा पेंशन योजना एवं छात्रवृत्ति योजनाओं, शादी अनुदान योजना एवं कन्या सुमंगला योजना से सम्बंधित लाभार्थिंयों के आवेदन पत्रों का निस्तारण कराते हुए पात्रों को लाभान्वित कराये जाने का निर्देश सभी सम्बंधित अधिकारियों को दिया है। बैठक में पोषण अभियान, मत्स्य पालन हेतु तालाबों के आवंटन, राज्य औद्यानिक मिशन, वन विभाग, उद्योग विभाग, बेसिक शिक्षा, श्रम विभाग, खाद्यी ग्रामोद्योग, सहकारिता विभाग की योजनाओं की समीक्षा करते हुए मण्डलायुक्त ने सभी सम्बंधित विभागों के अधिकारी को लक्ष्य के सापेक्ष पात्र लाभार्थियों को लाभान्वित कराये जाने का निर्देश दिया है। मण्डलायुक्त ने सभी मण्डल स्तरीय अधिकारियों को सप्ताह में एक बार विभागीय बैठक कर कार्यों की नियमित रूप से समीक्षा करते रहने के लिए भी निर्देशित किया है। इस अवसर पर जिलाधिकारी प्रयागराज भानु चन्द्र गोस्वामी, जिलाधिकारी कौशाम्बी अमित कुमार सिंह, जिलाधिकारी प्रतापगढ़ डाॅ0 नितिन बंसल, जिलाधिकारी फतेहपुर अपूर्वा दुबे तथा सभी जनपदों के मुख्य विकास अधिकारीगणों के अलावा संयुक्त विकास आयुक्त, अपर आयुक्तगण, उप निदेशक अर्थ एवं संख्या के अलावा सभी सम्बंधित विभागों के मण्डलीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More